Saturday, May 30, 2009

पानी वर्सेज शराब- दास्तान उस शॅक्स की दुनिया जिसे शराबी कहती हैं

एक शराबी की दास्तान,दिन भर शराब मे डूबा रहने वाला वो शॅक्स ऐसी सोच रखता है की देश और उसके विकास की बात करने वाले बड़े बड़े लोगों की ज़ुबाँ भी बंद हो जाए. बात सच हो या झूठ पर भावनाओं को देखिए,कही ना कही हमसे कुछ कह रहा है.

एक दिन मुझे एक शराबी मिल गया,
बात उसकी सुन कर मैं पूरा हिल गया,
पर उस दिन मुझे कतई गुस्सा नही आया था,
क्योंकि उसकी ज़ज्बात मे ग़ज़ब का दर्द पाया था.

देश की बात करने लगा,बड़ा ही समझदार था,
और इंसानी रिश्तो से भी उसे बड़ा प्यार था,
उसने शराब पीने का कारण भी बताया था,
सचमुच अद्भुत फंडा अपनाया था.

कहा शराब पीकर पानी बचाऊँगा,
और प्यासे को पानी पिलाऊँगा,
कोई मेरा दर्द समझ नही पाया है,
इसलिए मैने ये रास्ता बनाया है.

शराब से ज़्यादा पानी की कीमत है,
और मरने के लिए पानी की क्या ज़रूरत है,
मैने ये भी देखा है,
कुछ लोग तो बस शराब पीने के लिए जीते है,
मगर सोचो तो पानी जीने के लिए पीते है.
कहो इसका ज़िम्मेदार कौन है,
पानी के नाम पर सरकार भी मौन है,

इसलिए शराब पीता हूँ,दो बूँद पानी बच जाएगी,
और किसी प्यासे के लिए अमृत बन जाएगी.
वैसे भी मैं इस स्वार्थी, दुनिया से तंग हूँ,
आधुनिक, मानवीय रिश्तों से भी दंग हूँ,
सभी लोग मतलब के यार है,
और गला काटने को तैयार है.

पत्नी,बेटे और भाई,
सभी ने की बेवफ़ाई,
कल जो अपने थे,
वो भी मुँह मोड़ लिए,
मतलब से जुड़े थे,मतलब से छोड़ दिए.

इसलिए मैं भी ये दुनिया छोड़ दूँगा,
शराब पीकर दम तोड़ दूँगा,
पर पानी को हाथ नही लगाऊँगा,
उनके लिए बचाऊँगा,
जो मेरी तरह नही बेकार है,
और जिन्हे जिंदगी से प्यार है,

कुछ अच्छा करने का मेरा अपना तरीका,
थोड़ा अलग भी है और थोड़ा फीका,
क्योंकि मैं गुमनामी की मौत मार जाऊँगा,
पर अपना लक्ष्य किसी को नही बताऊँगा,
भारत सरकार मुझे भले ही न पहचाने,
पर मैं शहीद कहलाऊंगा,
और हिन्दुस्तान मे पानी की क्रांति को लक्ष्य तक पहुँचाऊँगा.

4 comments:

Rohit Khetarpal said...

Bit emotional but its new revolution towards betterment of people............

अविनाश वाचस्पति said...

पानी के प्रति
पीने के बाद
का नजरिया
हकीकत तभी
होती है मालूम।

deepak said...

nice one vinod

Harkirat Haqeer said...

भारत सरकार मुझे भले ही न पहचाने,
पर मैं शहीद कहलाऊंगा,
और हिन्दुस्तान मे पानी की क्रांति को लक्ष्य तक पहुँचाऊँगा.


लक्ष्य तो अच्छा है ...दुआ है आप सफल हों......!!