Saturday, March 7, 2009

राजनीति और हम


आज सुबह जैसे ही मेरी नींद खुली रात भर की भटकती हुई आँखे सामने मेज पर रखे न्यूज़ पेपर पर पड़ी जहाँ फ्रंट पेज पर ही देश कुछ महान नेता जी लोगों का फोटो छपा था,जी हाँ आप चाहे जो समझे पर इन्हे महान कहना मेरी मजबूरी है, आख़िर एक अरब से अधिक जनता की ज़िम्मेवारी इन्ही के उपर है ना, आप भले इस बात को मत मानिए पर ये बार बार हर चुनाव से पहले चीख चीख कर इसी ज़िम्मेवारी का अहसास खुद करते है साथ ही साथ हमारी इस अर्धस्वीकृत विश्वास को और बढ़ावा देते है की हमारे देश की आर्थिक,धार्मिक,मानसिक यहाँ तक की सामाजिक परिस्थिति सब सोचनीय सो चुकी है और ये एकमात्र चमत्कारिक अवतार है जो हमारी इस डूबती हुई पतवार को सहारा दे सकते है.
तो आप ही सोचिए ऐसे मनोबल बढ़ाने वाले व्यक्तित्व को महान कहना कदापि ग़लत नही होगा,वैसे तो मैं इन्हे महापुरुष के नाम से सुशोभित करता पर कभी कभी देश की मुश्किल घड़ी में इनकी महानता, पुरुषत्वता पर भारी पड़ जाती है. इन्हे देखकर और इनकी करतूतो को याद करके मैं कुछ देर सोचने लगा की अगर हम इनकी पथ पे चले तो देश के विनाश में कैसे भागीदार बन सकते है तो सचमुच बड़ा ही रुचिकर लगा वही सब बातें अपनी कल्पना मैं आपके सामने पेश करने जा रहा हू अपनी नये कविता के रूप में जो इस वर्तमान चुनाव मे देश के लोगो के लिए एक प्रेरणा श्रोत का कार्य करेगी.

एक दिन सोच रहा था मैं,कि राजनीति मे आऊँ,
जो लिपटे हैं सत्ता से,उनका जलवा दिखलाऊं| 
कूद पडु इस महासमर मे लेकर रंग बिरंगी चाल,
नये तरह राजनीति मे,Tech-Style Use करूँ||  

सीख चुका हूँ रंग बदलना,सत्ताधारी वीरों से, 
मेरा तरकश भरा पड़ा है दाँव पेंच के तीरों से| 
कुर्सी लोभी रेस मे मैं ,सबको पीछे कर दूँगा, 
जब पहुँचुँगा संसद को,उपर नीचे कर दूँगा||  

हर चुनाव से पहले ,माफ़िया Network बढ़ाऊँगा, 
लूट पाट,मारा मारी सबकी Training करवाऊँगा | 
Simulation करवाऊँगा, हर एक चुनाव से पहले, 
बनेगा बस अपना Model, कोई कितना भी कह ले||  

फिर जनता का काम करूँगा ,जगह जगह प्रोग्राम करूँगा , 
भाषण दूँगा जमकर खूब ,अपने देश का नाम करूँगा | 
करने को Deploy देश का ,बिज़नेसमेन करूँगा Set , 
किसको मिलेगी Priority, Random Number होगा Genarate ||  

करके मदद ग़रीबों का ये भी Interest बचा लेंगे , 
नाम हमारा ही होगा ,हम जनता को समझा लेंगे |
राजनीति के Packeage मे हूँ, Work भी होगा Inherite , 
हर Project के Planing मे ,फिर जान बूझकर होगा Late||  

सारा ध्यान लगा दूँगा ,Object-Money के Hacking मे , 
I-Way को उसे करूँगा ,Decision Making मे | 
दबा के सबको रख दूँगा ,कोई भी कितना बड़ा सिकंदर, 
और पार्टी का Main Function(),होगा मेरे Class के अंदर||  

बन जाऊँगा Interface ,बढ़ेगा तब पार्टी का Tent,
बिन Planing Project चलेगी ,रहेगा बढ़ता अपना Rent| 
वैसे तो पैसा जनता का ,फिर भी काम नही कुछ होगा ,
 Signature Available होगा ,नही दिखेगा Impliment|| 

दे दूँगा कश्मीर पाक को ,अपने हाथ भी कुछ आएगा , 
जनता लड़ेगी आपस मे ,तो अपने बाप का क्या जाएगा | 
मुद्दा लेकर मंदिर मस्जिद ,करता रहूँगा सबको Worm,
राज करूँगा जनता पे ,With One Name Multiple Form||  

ऐसा हम बस सोच रहें हैं,पर देखो तो हाल यही हैं, 
यही आज का रूप है भाई,हर एक दिल में चाल यहीं हैं|
आने वाले पल मे ,ऐसा कभी भी हो सकता है, 
ऐसे घटना से भारत खुद फिर से खो सकता हैं|| 

कैसी गहरी राजनीति,अब कैसा गिरा ये राजतंत्र , 
पराधीन लगता भारत ,जो बरसो पहले हुआ स्वतंत्र| 
हुआ अगर ऐसा तो समझो ,ज़िम्मेदार हमी हैं,
हमे सोचना है की हममे,आख़िर कहाँ कमी है||  

क्यूँ ऐसे को चुन लेते है,जिसके कई रूप व Phase, 
क्यूँ ऐसी Coding करते है,जिसका OutPut Garbage|
ऐसे मत लो decision जिसका परिणाम विकट हो,
 System Print कराओ ऐसा ,अच्छा Output हो||  

एक बार फिर मिला है मौका ,सोचो समझो Get करो, 
किसी नये संचालक को,अपने System पर Set करो|
Check करो Auto Process को ,लगा के हर Moment Mirror,
अगर सही है Logic तो,क्यूँ करते हो Syntax Error ||

9 comments:

mastkalandr said...

JINHE NAAZ HAI HIND PAR WO KAHAN HAI...
MERA BHARAT MAHAN 99/100 NETA BEIMAN...,FIR BHI MERA BHARAT MAHAN ... BAHUT HI SATIK KATAKSH KIYA HAI AAPNE..,AAJ KI RAAJNITI PAR AUR BHRAST NETAON KI DUKANDARI PAR...,
कैसी गहरी राजनीति,अब कैसा गिरा ये राजतंत्र ,
पराधीन लगता भारत ,जो बरसो पहले हुआ स्वतंत्र|
हुआ अगर ऐसा तो समझो ,ज़िम्मेदार हमी हैं,
हमे सोचना है की हममे,आख़िर कहाँ कमी है||
BILKUL SACH KAHA HAI AAPNE ..
JIMMEDAR HAMI HAI
AAKHIR KAHAN KAMI HAI..,
MERI SHUBHKAMNAYE SWEEKAR KAREN...,MK

संगीता पुरी said...

बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।

Jyotsna Pandey said...

हिंदी ब्लॉग जगत में आपका स्वागत है ,लेखन के लिए हार्दिक शुभकामनाएं ............
होली के शुभ पर्व पर बधाई ...........

रचना गौड़ ’भारती’ said...

ब्लोगिंग जगत मे स्वागत है
बधाई
कविता,गज़ल और शेर के लि‌ए मेरे ब्लोग पर स्वागत है ।
मेरे द्वारा संपादित पत्रिका देखें
www.zindagilive08.blogspot.com
आर्ट के लि‌ए देखें
www.chitrasansar.blogspot.com

निशांत मिश्र said...

हिन्दी ब्लॉगिंग संसार में आगमन पर बधाई. कामना है कि आपका ब्लॉग नवीनतापूर्ण और दीर्घायु हो. ज्यादा से ज्यादा पढें और दूसरों के ब्लॉग देखें. कुछ अच्छा लगे तो कमेन्ट करें, जैसे मैंने अभी किया. शुभकामनाएं.

नारदमुनि said...

veer ras ke liye sukriya, narayan narayan

MAYUR said...

होली की मुबारकबाद,पिछले कई दिनों से हम एक श्रंखला चला रहे हैं "रंग बरसे आप झूमे " आज उसके समापन अवसर पर हम आपको होली मनाने अपने ब्लॉग पर आमंत्रित करते हैं .अपनी अपनी डगर । उम्मीद है आप आकर रंगों का एहसास करेंगे और अपने विचारों से हमें अवगत कराएंगे .sarparast.blogspot.com

Samrat said...

Beautifully Articulated and the way u have put the words together is simply beyond my imagination......
Great Work!!!!!!

Vikas Chhajed said...

bahut badiya lekh hai ..

shubhkamnaye.........